इस ब्लॉग पर पोस्ट की गयी तस्वीरों (Photographs) पर क्लिक कर के आप उन्हें और स्पष्ट देख सकते हैं।

Tuesday, 24 July 2012

कहने को कुछ बातें हैं,कुछ शब्द हैं और मन में हलचल है ,तुम समझती सब हो पर समझ कर भी अनजान बनी रहती हो ,शायद मैं ही कुछ कह दूँ ...कभी...किसी दिन....पर इतना याद रखना ,मेरी ये खामोशी भी ....है तो सिर्फ.....तुम्हारे लिये।